बिहार के 5 लाख कॉन्ट्रैक्ट-कर्मियों के लिए अबतक की सबसे बड़ी खुशखबरी, नीतीश सरकार देगी बड़ा तोहफा


राज्य के लगभग 5 लाख कॉन्ट्रैक्ट-कर्मियों को नीतीश सरकार जल्द ही बड़ा तोहफा देगी। कॉन्ट्रैक्ट कर्मियों के साथ राज्य सरकार स्थायी समझौता करेगी। इसके बाद ऐसे कर्मियों की 60 वर्ष की उम्र तक नौकरी बेधड़क चलती रहेगी। ना साल दर साल कॉन्ट्रैक्ट बढ़वाने का झंझट और ना ही बार-बार वेतन रुक जाने का डर। कॉन्ट्रैक्ट कर्मियों को सरकारी कर्मी की तरह सुविधाएं भी मिलेंगी। कॉन्ट्रैक्टकर्मियों की सेवा नियमितीकरण के लिए पूर्व मुख्य सचिव अशोक कुमार चौधरी की अध्यक्षता में गठित उच्चस्तरीय कमेटी की रिपोर्ट में ये सिफारिशें की गई हैं।

ऐसे कर्मियों के नियत वेतन में बेसिक सैलरी और एचआरए समेत तमाम भत्तों का उल्लेख होगा जो उनको दिया जाना है। उम्मीद की जा रही है कि कमेटी 15 अगस्त से पहले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को अपनी सिफारिशों के साथ पूरी रिपोर्ट सौंप देगी। कमेटी का कार्यकाल अगस्त में समाप्त हो रहा है। रिपोर्ट में दैनिककर्मियों को भी सरकारी सेवकों की तरह सभी लाभ देने की सिफारिश की गई है। सूत्रों के अनुसार सभी विभागों और जिलों में सरकारी कर्मियों के रिक्त स्थायी पदों पर कॉन्ट्रैक्ट पर काम कर रहे कर्मियों से ही समझौता किया जाएगा। हटाने की वही प्रक्रिया होगी जो स्थायी सरकारी सेवक के लिए निर्धारित है।

15 दिन लगातार गायब रहने पर ही निकाले जा सकेंगे
5 लाख को लाभ, सरकारी कर्मियों जैसी सुविधाएं
वेतन व सुविधाएं
60 साल की उम्र तक नौकरी पक्की, कांट्रैक्ट को हर साल रिनुअल नहीं कराना पड़ेगा बेसिक सैलरी के हिसाब से महंगाई भत्ता दिया जाएगा
मेडिकल की सुविधा दी जाएगी
यात्रा और घर का भत्ता भी दिया जाएगा
ईपीएफ खाते में पैसे जमा किए जाएंगे
प्रशिक्षण में भेजे जाने पर मिलेगा आवागमन का खर्च


किनको होगा फायदा |
आईटी ऑपरेटर, प्रखंड पशुपालन पदाधिकारी, भ्रमणशील पशु चिकित्सा पदाधिकारी, डाटा इंट्री ऑपरेटर, चालक, कॉन्ट्रैक्ट लेक्चरर, व्यवसाय अनुदेशक, आईटी मैनेजर, ग्राम कचहरी सचिव, पंचायत तकनीकी सहायक, आशुलिपिक, अमीन, आयुष चिकित्सक, सहायक इंजीनियर, सांख्यिकी अन्वेषक, गार्डेन सुपरवाइजर, सामुदायिक कार्यकर्ता, लेखा सहायक, प्रोग्रामर, आईटी ब्वॉयज, ऑफिस एग्जिक्यूटिव, सांख्यिकी स्वयंसेवक, मोहर्रिर, पंचायत रोजगार सेवक, प्रयोगशाला सहायक आदि।

छुट्टी- अवकाश
स्थायी सरकारी कर्मियों की तरह इन्हें भी छुट्‌टी और अवकाश का लाभ मिलेगा
कैजुअल लीव (सीएल) और अर्न लीव (ईएल) की सुविधा मिलेगी
महिलाओं को प्रेग्नेंसी के लिए पांच महीने की छुट्टी मिलेगी
पुरुषों को भी पिता बनने पर पितृत्व अवकाश मिलेगा
चार साल में एक बार एलटीए मिलेगा
इनपुट: DBC


Like it? Share with your friends!

0

Comments 0

Your email address will not be published. Required fields are marked *

बिहार के 5 लाख कॉन्ट्रैक्ट-कर्मियों के लिए अबतक की सबसे बड़ी खुशखबरी, नीतीश सरकार देगी बड़ा तोहफा

log in

Become a part of our community!

reset password

Back to
log in