Anisha Khatun saved by bhagalpur police: बिहार के एडीजी ने शुक्रवार को को भागलपुर पुलिस को सूचना दी कि इशाकचक थाना क्षेत्र के बरहपुरा के रमजान अली लेन में एक महिला को ससुराल वाले तीन दिन से घर में बंद कर मारपीट कर रहे हैं। उसकी जान को खतरा है, इसलिए तुरंत कार्रवाई की जाए। महिला का मोबाइल नंबर घर का लोकेशन और उसके ससुर का नाम भी भेजा गया। इसके बाद इशाकचक थाने की पुलिस बरहपुरा पहुंची तो पता चला कि नसीम शेख के किसी बेटे की शादी नहीं हुई है।

 

पुलिस मोबाइल लोकेशन से पहुँची घर

पुलिस ने जब महिला के मोबाइल पर फोन किया पता चला कि 10 के बदले 11 अंक का नंबर है। पुलिस आसपास के लोगों से पूछताछ की तो पता चला कि एक और नसीम है जिसका घर थोड़ी दूरी पर है। थोड़ी देर में महिला का सही नंबर मंगवा कर फोन किया तो महिला ने कहा कि सफेद रंग का मकान है उसी में मुझे बंद कर रखा है। इतने में ससुराल वालों ने उससे मोबाइल छीन लिया। दूसरी तरफ से महिला के चिल्लाने की आवाज आने लगी। फिर आसपास के लोगों ने एक उजले रंग के घर की तरफ इशारा कर बताया कि यही घर हैं। इसके बाद बाद पुलिस घर के अंदर दाखिल हुई। महिला सिपाही ने अनिशा खातून को छुड़ाकर थाने ले गई। मामले में पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि महिला के भाई आ रहा है। इसके बाद लिखित शिकायत ली जाएगी।

 

वसीम शेख ने सात माह पहले अनिशा से की थी दूसरी शादी

अनिशा खातून ने पुलिस को बताया कि सात माह पहले बरहपुरा निवासी वसीम शेख दूसरी शादी की थी। शादी के एक माह बाद वह सऊदी अरब चला गया।

6 महीने से वह मुझसे बात भी नहीं कर रहा है।

सास-ननद जबरन पैसा मांगती हैं, नहीं देने पर घर मे बंद कर मुझे पीटती हैं।

कुछ दिन पहले भी 50 हजार रुपए की मांग की थी, जिसमें 20 हजार रुपए दिए। पूरे पैसे नहीं देने पर मारपीट करती हैं।

 

छपरा के साहेबगंज की रहने वाली अनिशा खातून ने बताया कि वसीम शेख की पहली शादी 2017 में हुई थी, लेकिन एक महीने बाद हीं उसका तलाक हो गया। अनिशा का कहना है कि वसीम अब मुझे छोड़कर तीसरी शादी करना चाहता है। ससुराल वाले फोन पर किससे क्या बात कर रही, इसपर भी नजर रख रहे थे।

I talk on bhagalpur Local news, National views, Interestfull reviews and interviews. Email [email protected]

Leave a comment