भागलपुर से 110 KM का फ़ोरलेन सड़क, खुद मंत्री शाहनवाज़ हूसैन ने शुरू करवाया युद्ध स्तर पर काम

घोरघट-मिर्जाचौकी एनएच-80 के निर्माण के लिए दोबारा टेंडर किया गया है। 20 दिसंबर तक ठेकेदार को टेंडर भरने और बिड समर्पित करने का समय दिया गया है। 21 तारीख को टेंडर का तकनीकी बिड खुलेगी। इसमें सफल एजेंसी का वित्तीय बिड खुलेगा। चयनित एजेंसी को 730 दिनों में सड़क का निर्माण पूरा करना होगा। टेंडर अपलोड करने वाली एजेंसी को 50 हजार रुपये टेंडर शुल्क जमा करना होगा। 110 किलोमीटर चिकनी सड़क के लिए लोगों को दो साल और इंतजार करना होगा। इस दौरान जर्जर एनएच-80 पर हिचकोले खाने को मजबूर होना पड़ेगा। एनएच विभाग के अधीक्षण अभियंता ने सत्तार खलीफा ने बताया कि ठीकेदार के इन्कार करने पर पहले के टेंडर को रद कर 17 नवंबर को दोबारा टेंडर किया गया है।

 

चौड़ीकरण और पुनर्निर्माण की योजना

 

एनएच-80 के सेक्शन 70.15 किमी से 121.025 किमी के बीच टू लेन सड़क के चौड़ीकरण और पुनर्निर्माण के लिए 477.54 करोड़ की योजना के लिए दोबारा निविदा मंगाई है, जबकि दूसरे हिस्से यानी 132.895 किमी से 190.150 किमी के बीच दो लेन सड़क के चौड़ीकरण और पुनर्निर्माण को 566.15 करोड़ की योजना है और इसके लिए फिर से निविदा मंगाई जा चुकी है।

 

दुश्वारियों को दूर करने के लिए सतत प्रय}शील

 

मंत्री ने कहा कि एनच-80 की वजह से होने वाली दुश्वारियों को दूर करने के लिए वो सतत प्रय}शील रहे हैं और आगे भी इसका निर्माण जल्द से जल्द कराने के लिए प्रय}शील रहेंगे। विक्रमशीला सेतु के समानांतर 1110.23 करोड़ के पुल निर्माण की योजना भी तेजी से आगे बढ़ रही है। साथ ही भागलपुर-हंसडीहा सड़क को फोरलेन बनाने की 1121.62 करोड़ की योजना के निर्माण के लिए आवंटित करने का काम भी प्रक्रिया में है।

 

एनएच-80 का काम तेजी से आगे बढ़ाने के लिए शनिवार को सूबे के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन और बिहार के पथ निर्माण मंत्री नीतिन नवीन के बीच विभाग के शीर्ष पदाधिकारियों की मौजूदगी में लंबी बातचीत हुई। एनएच-80 के जिन हिस्सों के निर्माण के लिए कार्य आवंटित हो चुकी हैं, वहां निर्माण कार्य कैसे जल्द से जल्द शुरु हो और जिन हिस्सों में कार्य आवंटित करने के लिए फिर से निविदा मंगाई गई है, वहां भी काम कैसे जल्द शुरु हो सके, इस पर विस्तार से चर्चा हुई। उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन ने कहा कि भागलपुर और आसपास के जिले के लोगों के लिए एनएच-80 का दुरुस्त होना बेहद जरुरी है। उन्होंने कहा कि बैठक में मुंगेर से मिर्जाचौकी तक की सड़क को लेकर विस्तार से चर्चा हुई।

 

उद्योग मंत्री ने दी राशि आवंटन की जानकारी

उद्योग मंत्री ने जानकारी दी कि मुंगेर-मिर्जाचौकी फोरलेन सड़क निर्माण के लिए 3792 करोड़ का कार्य आवंटित किया जा चुका है। इनमें एनएच-80 के मुंगेर-मिर्जाचौकी सेक्शन में मुंगेर से खरिया गांव के बीच निर्माण कार्य के लिए 981 करोड़ की कार्ययोजना आवंटित की जा चुकी है। खरिया गांव से भागलपुर बाइपास तक के हिस्से के निर्माण के लिए 902 करोड़ का कार्य आवंटित हो चुका है।

By MyBhagalpur. COM

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *