रेलवे ट्रैक पर शनिवार रात 3:10 बजे के करीब बूचड़खाने की दीवार गिरने से वहां से गुजर रही पटना-मालदा इंटरसिटी हादसे का शिकार होने से बाल-बाल बची थी । दीवार इंजन पर गिरी थी। ड्राइवर ने इमरजेंसी ब्रेक लगाकर हादसे को टाला था। इसके बाद सोमवार को रेलवे के निर्माण कार्य निरीक्षक ने रेलवे पटरी से सटे 16 मकान मालिकों को नोटिस दिया है कि वे अपनी दीवारों को मजबूत करें।

 

भागलपुर में घरों पर नोटिस

अगर दीवार गिरती है तो वह उनकी जिम्मेदारी होगी। कई लोगों ने रेलवे की जमीन का अतिक्रमण भी कर लिया है। रेलवे की टीम ने दो-तीन घरों पर नोटिस चस्पा किया। जब निर्माण कार्य निरीक्षक नोटिस देने गए तो कुछ लोगों ने लेने से मना कर दिया। टीम के साथ बकझक भी की।

 

टूटेगा कई लोगों का फिर से घर

आईओडब्ल्यू ललन कुमार ने बताया कि कुछ लोगों ने रेलवे की जमीन पर चहारदीवारी दे दी है। रेलवे की चहारदीवारी को तोड़कर रास्ता भी बना लिया है। ऐसे ही लोगों को नोटिस दिया गया है। अब मालदा से भागलपुर से रेलवे का नक्शा मंगाकर लाइन के दक्षिणी ओर की जमीन की मापी कराई जाएगी। इसके लिए जगदीशपुर के सीओ को भी पत्र लिखा जाएगा।

 

बूचड़खाने की दीवार गिरने की जांच शुरू

दूसरी ओर बूचड़खाने की दीवार गिरने के मामले की जांच भी शुरू हो गयी है। रेलवे के अधिकारी के अनुसार दीवार इंजन पर गिरी थी। उस समय ट्रेन की गति धीमी थी जिससे ड्राइवर ने तत्काल इमरजेंसी ब्रेक ले लिया था। अधिकारियों ने बताया कि बूचड़खाने की दीवार का आधार कमजोर था। वर्षा के बाद ट्रेन की धमक से वह गिर गयी।

Hariom Mishra

I talk on bhagalpur Local news, National views, Interestfull reviews and interviews. Email hello@iool4o.serveravatartmp.com

Leave a comment